July 3, 2022

हरियाणा: नीरज चोपड़ा के सम्मान में लगाए गए गोल्डन लेटर बॉक्स के पिलर और चेन चोरी, जांच में जुटी पुलिस

Chandigarh/Alive News: ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा के सम्मान में हरियाणा के पानीपत में लगाए गए गोल्डन लेटर बॉक्स के पिलर और चेन चोरी हो गए हैं। मामले की शिकायत पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज जांच शुरू कर दी है। मिली जानकारी के अनुसार डाकघर के प्रबंधक नरेश धीमान ने मॉडल टाउन थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि 10 जनवरी को यह वारदात हुई।

गौरतलब है कि वर्ष 2021 में ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने वाले नीरज चोपड़ा के सम्मान में 14 अगस्त को गोल्डन लेटर बॉक्स का शुभारंभ किया था। डाकघर के प्रबंधक ने बताया कि 10 जनवरी की सुबह लेटर बॉक्स के स्टील के पिलर व चेन चोरी मिले। इसकी शिकायत पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।

ओलंपिक में जैवलिन थ्रो में देश को गोल्ड मेडल दिलाने वाले नीरज चोपड़ा हरियाणा के पानीपत जिले के गांव खंडरा के रहने वाले हैं। जो पानीपत शहर से कुछ किलोमीटर की दूरी पर ही है। पानीपत के शिवाजी स्टेडियम में ही नीरज ने भाला फेंकने की शुरुआत की थी। उनके सम्मान में पानीपत डाकघर में 14 अगस्त को गोल्डन लेटर बॉक्स का शुभारंभ किया था।

नीरज के पदक लाने पर जहां विश्व में देश का नाम रोशन हुआ तो वहीं देश में लोग नीरज के सम्मान में कुछ न कुछ कर रहे थे। सभी ने अपने अंदाज में नीरज को सम्मान दिया। इसी कड़ी में डाक विभाग ने भी नीरज के सम्मान में गोल्डन लेटर बॉक्स बनवाया था। नीरज के गांव में भी एक गोल्डन लेटर बॉक्स लगाया गया है। लेटर बॉक्स पर उनका नाम भी लिखा गया है।

Related articles

Big relief to school operators, official work done online

Faridabad/ Alive News: The government however is insisting on online work in all government departments has also decided to include education department in the line way, so that school operators can access their official works via online from their homes. Now school operators or who have willing to open new school, extension of accreditation or […]

अब लेक्चरर को बताना होगा मंथली लेसन प्लान, अपडेट होगा शेड्यूल

Sonipat/Alive News : कॉलेजों में शैक्षणिक व्यवस्था में सुधार को लेकर एक विशेष पहल हुई है। इसके तहत अब कॉलेजों में लेक्चरर को पहले ही बताना होगा कि वह आने वाले दिनों में छात्रों को क्या पढ़ाएंगे। इसके लिए वह बाकायदा पोर्टल पर डिटेल फीड करेंगे और प्रिंसिपल को शेड्यूल से अवगत कराएंगे। इसमें बताया […]