October 20, 2021

कथक नृत्यांगना ने विद्यार्थियों को सिखाया कथक की बारीकियां

Faridabad/Alive News : हरियाणा स्वर्ण जयन्ती उत्सव वर्ष के अन्र्तगत आज राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा, फरीदाबाद में जूनियर रैडक्रास, तथा सैंट जान एंबुलैंस बिग्रेड ने संयुक्त रुप से प्राचार्या अंजु छाबडा की अध्यक्षता में जूनियर रैडक्रास व सैंट जान एंबुलैंस बिग्रेड अधिकारी और अंग्रेजी प्रवक्ता रविन्द्र कुमार मनचन्दा के नेतृत्व में कत्थक नृत्य का आयोजन स्पिक मेके के अन्र्तगत किया गया। विशिष्ट अतिथि के तौर पर प्रख्यात कत्थक नृत्यांगना मोउमाला नायक और प्रख्यात समाजसेविका व पलवल डोनर्स कलब से अल्पना मितल उपस्थित रहीं।

इस अवसर पर रविन्द्र कुमार मनचन्दा ने बताया कि आज सुबह बच्चों ने प्रख्यात कत्थक नृत्यांगना मोउमाला नायक जो कि लखनउ घराने की कत्थक नृत्यांगना है, जिन्होनें विश्व प्रसिद्ध कत्थक गुरु पंडित बिरजू महाराज से कत्थक का एकहरा सीखा, 1982 से मात्र नौ बर्ष की आयु से कत्थक नृत्य का रियाज शुरु कर दिया था। उन्हें कत्थक के अलावा हिन्दुस्तानी वोकल क्लासिकल म्यूजिक, तबला, पेंटिंग, रशियन भाषा, रेकी, कम्यूटर सांईंस तथा पोशाक डिजाईन आदि में भी महारत हासिल हैं।

उन्होनेें विद्यालय के छात्रों एवम छात्राओं को कत्थक से सम्बन्धित लय और ताल के बारे में विस्तार से प्रस्तुति दे कर समझाया। मोउमाला नायक और प्रख्यात समाजसेविका अल्पना मितल ने बच्चों को कत्थक की शब्दावली से भी परिचित करवाया। कत्थक नृत्य की प्रस्तुति के पश्चात बहुत से बच्चों ने कत्थक के बारे में प्रश्न पूछे। प्राचार्या अंजु छाबडा, रविन्द्र कुमार मनचन्दा, रेनु शर्मा, शारदा, वीरपाल पीलवान, लोकेश पी टी आई, देशराज गोला और स्टाफ सदस्यों ने आए हुए अतिथियों का शाल द्वारा स्वागत किया।

Related articles

अजीत तेवतिया भारतीय कृषक समाज का कार्यकारी चैयरमैन नियुक्त

Palwal/ Alive News: भारतीय कृषक समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्ण वीर चौधरी का हुडा सेक्टर 2 पलवल में आगमन पर जोरदार स्वागत किया गया । इस अवसर पर उनहाने अजीत तेवतिया को भारतीय कृषक समाज का हरियाणा का कार्यकारी चैयरमैन नुयुक्त किया। इस से पहले तेवतिया अभाविप के प्रेदश उपाध्यक्ष रह चुके हैं और वर्तमान […]

दिल्ली : एजुकेशनल ट्रेनिंग के लिए ऑडिटोरियम खोलने की इजाजत, छात्रों को बुलाकर पढ़ाने की इजाजत नहीं

New Delhi/Alive News : देश की राजधानी नई दिल्ली के स्कूलों और अन्य शिक्षण संस्थानों में एजुकेशनल ट्रेनिंग और मीटिंग्स के लिए 50 फीसदी सीटिंग के साथ ऑडिटोरियम और असेंबली हॉल खोले जाने की अनुमति होगी। हालांकि इस दौरान स्कूलों, कॉलेजों और अन्य कोचिंग संस्थानों को पूरी तरह से बंद रखना होगा। यहां किसी भी […]